जानिए मनोकामना पूरी करने के लिए कैसे करें भगवान शंकर की पूजा

जानिये किन चीज़ो के चढ़ावे से शिव होंगे प्रसन्न

श्रावण मास चल रहा है ऐसे में भगवान शंकर की आराधना इस महीने में लोग विशेष रूप से लोग करते हैं। भगवान शंकर आशुतोष अर्ताथ शीघ्र प्रसन्न हो जाने वाले देव हैं। सावन मास में सोमवार या पूरे सावन में आरधना करते रहने से आपकी मनोकामना पूरी अवश्य होती है। भगवान शंकर को कुछ वस्तुएं विशेष रूप से प्रिय हैं जिनके पूजन में प्रयोग से कैलाशपति शीघ्र प्रसन्न होते हैं।

आइये कौनसी है वो वस्तुएं बताते हैं आपको:
1. जल :

शंकर इतने दयालु है कि आपके जल चढ़ाने मात्र से ही प्रसन्न हो आशीर्वाद दे देते हैं। जल शीतलता प्रदान करता है इसलिए जब शिव ने विष पान किया था तो उसकी उष्णता को ठंडा करने के लिए जल का सहारा लिया तब से ही भगवान शंकर को जल विशेष प्रिय है।

2. बिल्वपत्र :

श्रावण मास की पूजा के दौरान बिल्वपत्र के तीन पत्र जो एक साथ लगे हों उन्हें शिवलिंग पर चढ़ाएं । ध्यान रहे कि कोई भी बिल्वपत्र कटा फटा न हो। तीन पत्र भगवान के त्रिनेत्र का प्रतीक है।

3.आक या आंकड़ा :

आंकड़ा या आक के फूल भी भगवान को विशेष प्रिये है । पूजा के दौरान इसके फूल भगवान को चढ़ाएं।

4. धतूरा :

धतूरा बहुत जहरीला होता है जिसका सेवन शरीर में बहुत ऊष्मा पैदा करता है। वैज्ञानिक आधार माने तो शंकर कैलाश में रहते हैं जहाँ अत्यंत ठंड रहती है अतः वहां ऊष्मा वाली चीज़े आवश्यक है।
धतूरा भी भगवान को चढ़ाएं , शिवजी प्रसन्न होंगे

5. कर्पूर :

” कर्पूरगौरं करुणावतारं…” भगवान शंकर की पूजा के लिए ये मन्त्र हमने कई बार पढ़ा होगा। शिवजी को कर्पूर चंदन में लगा कर तिलक लगाया जाता है । इससे भोलेनाथ विशेष प्रसन्न होते है और वरदान देते हैं।

6. दूध :

शिवलिंग पर दूध चढाने से भी बाबा शीघ्र प्रसन्न होते है।सावन में दूध का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है इसीलिये भगवान शंकर वो सारी वस्तुएं जो जनमानस के लिए हानिकारक होती है अपने ऊपर ले लेते है और भक्तों को उनसे दूर रखते हैं। है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *